राजस्थान के चूरू में गर्मी से झुलस रहे लोग 50 डिग्री पहुंचा तापमान

देश इन दिनों भीषण गर्मी का सामना कर रहा है. खासकर पश्‍चिमी हिस्सों में तापमान बहुत ज्यादा बढ़ गया है. सूरज से बरसती आग ने लोग की मुश्किले बढ़ा दी हैं. देश में सबसे ज्यादा तापमान राजस्‍थान के चूरू में रिकॉर्ड किया गया है. हालांकि कहा जा रहा है कि आने वाले दिनों में भीषण गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है. लेकिन अभी कई हिस्सों में भीषण गर्मी के साथ लू चलने से आम जनजीवन प्रभावित कर दिया है. 50.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार राज्य के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य तापमान से चार डिग्री सेल्सियस से आठ डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया. न्यूनतम तापमान अधिकतर जगहों पर तीन डिग्री सेल्सियस से लेकर पांच डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया. इस भीषण गर्मी से लोग हो रहे है परेशान

मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि चूरू में अधिकतम तापमान 50.3 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 48.8 डिग्री, बीकानेर में 48.4 डिग्री, कोटा में 47.4 डिग्री, जैसलमेर में 47.0 डिग्री, बाडमेर में 46.6 डिग्री, राजधानी जयपुर में 45.8 डिग्री

50.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार राज्य के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य तापमान से चार डिग्री सेल्सियस से आठ डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया. न्यूनतम तापमान अधिकतर जगहों पर तीन डिग्री सेल्सियस से लेकर पांच डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि चूरू में अधिकतम तापमान 50.3 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 48.8 डिग्री, बीकानेर में 48.4 डिग्री, कोटा में 47.4 डिग्री, जैसलमेर में 47.0 डिग्री, बाडमेर में 46.6 डिग्री, राजधानी जयपुर में 45.8 डिग्री

आम तौर पर मानसून एक जून को केरल में पहुंच जाता है और इसके साथ ही आधिकारिक तौर पर चार महीने के बारिश के मौसम का आगाज होता है. आईएमडी ने मानसून को लेकर बुलेटिन में कहा है, ‘‘उत्तर की तरफ धीरे-धीरे बढ़ने की अनुकूल संभावना के कारण आठ जून के आसपास केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत की उम्मीद है. अगले तीन चार दिनों में उत्तर-पूर्वी राज्यों के कुछ भागों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के बढने को लेकर अनुकूल स्थिति बनने की संभावना है.

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *