जनता हिमालय बचाओ अभियान से जुड़े : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत

रविवार को प्रदेशभर में ‘हिन्दुस्तान हिमालय बचाओ अभियान’ का आगाज हुआ। नौ सितंबर को इस अभियान का समापन होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत सुबह दस बजे न्यू कैंट रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास में इस अभियान का हिस्सा बने। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने आपके अपने अखबार ‘हिन्दुस्तान’ के हिमालय बचाओ अभियान की पहल का स्वागत किया। उन्होंने जनता से इस अभियान का हिस्सा बनने का आह्वान किया। उन्होंने हिमालय प्रतिज्ञा पर हस्ताक्षर करते हुए जनता से अपील की है कि वे भी इस अभियान का जरूर हिस्सा बनें और हिमालय के पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान दें। त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि ‘हिन्दुस्तान’ पिछले सात साल से हर वर्ष यह अभियान चलाता आ रहा है। उन्होंने इस पहल को प्रशंसनीय बताते हुए अभियान की सफलता के लिए शुभकानाएं दी और कहा कि उन्हें विश्वास है कि एक दिन यह अभियान हिमालय के संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पॉलीथिन और अन्य प्रदूषण जीवन के लिए खतरा बन चुके हैं। इससे हिमालय की सेहत पर भी बुरा असर पड़ रहा है। यदि हिमालय का पर्यावरण सुरक्षित नहीं रहेगा तो पूरी दुनिया पर इसका विपरीत असर पड़ेगा। उन्होंने उत्तराखंड के आमजन से हिमालय के संरक्षण के लिए आगे आने का आह्वान किया। पर्वतराज हिमालय की पर्यावरणीय सेहत के प्रति जनजागरण को लेकर ‘हिन्दुस्तान हिमालय बचाओ-पॉलीथिन हटाओ’ अभियान का रविवार को दून से आगाज हुआ। कृषि एवं उद्यान मंत्री सुबोध उनियाल ने इसका शुभारंभ किया। पहले दिन देहरादून और मसूरी के 17 स्थानों पर 20 हजार से ज्यादा लोगों ने हिमालय प्रतिज्ञा ली। वहीं, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने आवास में शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कर लोगों से अभियान से जुड़ने की अपील की।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *