मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की छवि धूमिल करने के आरोप में आयुष कुकरेती पर मुकदमा दर्ज

वीडियो एडिट कर सोशल मीडिया में प्रसारित कर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की छवि धूमिल करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक के खिलाफ आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी श्रीनगर गढ़वाल का छात्र बताया जा रहा है। अजबपुर कलां स्थित बैंक कॉलोनी निवासी ट्रांसपोर्टर अनिल कुमार पांडे ने नेहरू कॉलोनी थाने में इस मामले में तहरीर दी। दरअसल, पांच अक्तूबर को आईआईटी रुड़की में दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविद की मौजूदगी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी संबोधित किया था।

किसी ने उनके संबोधन का वीडियो एडिट कर सोशल मीडिया में प्रसारित कर दिया। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपति की पत्नी को देश की प्रथम महिला संबोधित किया था। इसे एडिट कर गलत तरीके से दर्शाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया।

फेसबुक एकाउंट पर पोस्ट किया एडिट वीडियो

श्रीनगर गढ़वाल, पौड़ी निवासी आयुष कुकरेती के फेसबुक एकाउंट पर यह एडिट किया हुआ वीडियो भेजा गया है। नेहरू कॉलोनी थानाध्यक्ष दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि आरोपी आयुष कुकरेती के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसके बारे में पता लगाया जा रहा है।

टिप्पणी करने वाले अज्ञानी और षडयंत्रकारी : डॉ. भसीन 
सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री के संबोधन को गलत तरीके से प्रदर्शित किए जाने के मामले में भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी डॉ. भसीन ने भी ट्वीट किया है। डॉ. भसीन ने कहा कि आईआईटी दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि राष्ट्रपति की पत्नी को देश की प्रथम महिला संबोधित करने पर मुख्यमंत्री पर टिप्पणी कर रहे लोग अज्ञानी और षड्यंत्रकारी दोनों हैं। हर देश में राष्ट्रपति की पत्नी को प्रथम महिला ही कहा जाता है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *