हाईवे विकास के लिए सरकार को भारतीय जीवन बीमा निगम देगा कर्ज

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम ने राजमार्गें के निर्माण के लिए सरकार को 1.25 लाख करोड़ रूपये का देने का प्रस्ताव रखा है. गडकरी ने कहा सरकार आम लोगों से भी पैसा लेकर उन्हें अच्छा ब्याज देगी. यह ब्याज फिक्स्ड डिपॉजिट यानी एफडी पर मिलने वाले ब्याज से ज्यादा हो सकता है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा था कि अगले पांच साल में देश में बुनियादी ढांचे में 100 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा. लेकिन इतनी बड़ी रकम जुटाना सरकार के लिए आसान नहीं है, इसलिए इसके लिए विदेशी कर्ज लेने से लेकर मोटी नकदी पर बैठी सार्वजनिक कंपनियों से कर्ज लेने जैसे कई अनूठे उपाय किए जा रहे हैं.

हम इस फंड को राजमार्गों के निर्माण में लगाएंगे.नितिन गडकरी से LIC के चेयरमैन आर. कुमार पिछले हफ्ते मिले थे.भारतमाला प्रोजेक्ट के लिए पहले 5.35 लाख करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान था. बाद में जमीन आदि की कीमत बढ़ने की वजह से इसकी लागत में संशोधन किया गया. इसके तहत पहले चरण में 34,800 किमी सड़कें बनाई जाएंगी.

NHAI इसके लिए बॉन्ड जारी करेगा. NHAI अभी अपने टोल, ऑपरेट ऐंड ट्रांसफर (TOT) मॉडल के तहत 566 किमी के तीसरे चरण के लिए 4,995 करोड़ रुपये जुटाना चाहता है. ये राजमार्ग उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और तमिलनाडु में बनेंगे. गडकरी ने बताया कि वित्त मंत्रालय ने इस साल 75,000 करोड़ रुपये जुटाने को मंजूरी दी है. उक्त स्रोतों के अलावा मंत्रालय बैंकों से भी कर्ज लेने पर विचार कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *