एक युवक अपने मां की हत्या के इरादे से उसके पीछे भागा, पढ़िए पूरी खबर

उत्तराखंड के हरिद्वार में एक युवक अपने मां की हत्या करने के लिए उसके पीछे भागा। मां अपनी जान बचाने के लिए थोड़ी दूर तक भागी और इसके बाद दोनों के बीच धक्कामुक्की हुई जिसमें बेटे की मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। बताया जा रहा है कि बेटा शराब के नशे में मां को मारने जा रहा था।

पुलिस के अनुसार, जमालपुर कलां निवासी प्रवीण पुत्र चमन लाल हलवाई का काम करता था। सोमवार की रात वह शराब पीकर घर लौटा था। इस पर छोटे भाई रोहित ने उसे टोका तो दोनों के बीच झगड़ा हो गया। झगड़ा शांत हुआ तो प्रवीण ने अपनी मां सविता से 3000 रुपये देने के लिए कहा। मां जैसे तैसे कर 1500 रुपये लेकर बेटे के पास पहुंची। बेटे ने गुस्से में 1500 रुपये फाड़ दिए और मां से झगड़ा करने लग गया। 

आरोप है कि बेटा अपनी मां को डंडे से मारने लगा तो मां भागने लगी। दोनों के बीच धक्का मुक्की हुई और बेटा प्रवीण नीचे गिर गया। जिससे उसके सिर पर गंभीर चोट लग गई। आनन फानन में प्रवीण को जिला अस्पताल लाया गया। जहां देर रात उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने अस्पताल की सूचना पर शव को अपने कब्जे में लिया और मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। कनखल थानाध्यक्ष हरिओम राज चौहान ने बताया कि शिकायत आने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। संभवत: मौत सिर में चोट के कारण हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

कभी हलवाई तो कभी मजदूर बन जाता था प्रवीण 
प्रवीण अधिकांश से हलवाई के काम पर जाया करता था। शादियों का सीजन न होने पर प्रवीण मजदूरी भी कर लेता था। शराब पीने की लत प्रवीण को हलवाई के काम में ही पड़ी थी।

चार भाई से दो बचे
प्रवीण की भी आकस्मिक मौत हो गई, एक भाई की पहले भी आकस्मिक मौत हुई थी। जब पिछले साल होली के दिन एक भाई का शव गांव के ही पास पड़ा मिला था। चार भाई के अब दो ही भाई राहुल और टोनी बचे है। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *