भारतीय सेना में कश्मीर के 575 युवा शामिल, देश के लिए मर-मिटने की खाई कसमें

जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद इसकी चर्चा हर जगह हो रही है. कश्मीर के युवा देश की मुख्य धारा में जुड़ने के लिए लगातार प्रयासरत हैं. इसका उदाहरण शुक्रवार को राज्य में देखने को मिला जब यहां 575 युवा एक साल की कड़ी ट्रेनिंग ट्रेनिंग के बाद सेना में शामिल हुए इन जवानों को शुक्रवार को ट्रेनिंग पूरी होने के बाद शपथ दिलाई गई. अब इनकी अलग-अलग जगहों पर पोस्टिंग होगी. इन जवानों के रेजिमेंट का नाम जैकलाई है. जैकलाई रेजिमेंट का मुख्य वाक्य है- बलिदानम वीर लक्ष्मणम है यानी बलिदान वीर का लक्षण है. बता दें कि जम्मू कश्मीर के लोगों को अधिक से अधिक मौके देने के लिए यहां के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने तीन महीने के अंदर प्रदेश के 50 हजार युवाओं को नौकरी देने की बात कही है. इन युवाओं को प्रदेश के विभिन्न विभागों में नौकरी दी जाएगी. आर्टिकल 370 हटने के बाद से राज्य में शांति व्यवस्था बरकरार रखने के लिए सेना के जवान डटे हुए हैं. प्रशासन ने पहले कुछ कड़ाई के बाद अब फोन लाइन को अनेक जगहों पर चालू किया है. प्रशासन की कोशिश है कि जल्द से जल्द यहां सामान्य जन-जीवन बहाल हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *